विधायक शुक्ला की शिकायत पर किच्छा चीनी मिल के दो कर्मचारियों पर गिरी गाज… देखें वीडियो

किच्छा। भाजपा विधायक राजेश शुक्ला की शिकायत पर किच्छा चीनी मिल में चल रहे भ्रष्टाचार की पोल पट्टी खुल गयी है। जांच में मिल के दो कर्मचारी दोषी पाए गए हैं।
मालूम हो कि किच्छा चीनी मिल में इस पेराई सत्र के शुरुआत से ही मिल करीब 720 घंटे बन्द रही है। इसके पीछे सिस्टम की लापरवाही का होना मुख्य कारण कहा जा रहा था। इस संबंध में क्षेत्रीय विधायक राजेश शुक्ला ने कड़ी आपत्ति जताते हुए शासन स्तर पर कार्यवाही करने के लिए शिकायती पत्र भेजा था। जिसके बाद उनकी शिकायत पर तत्कालीन बाजपुर के प्रधान प्रबंधक चंद्र सिंह इमलाल की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय जांच कमेटी का गठन किया गया।

आदेश की कॉपी दिखाते विधायक राजेश शुक्ला

जांच में किच्छा चीनी मिल के तत्कालीन प्रभारी लेखा/आंतरिक सम्प्रेक्षक रमेश भसीन एवं तत्कालीन टाइम कीपर झारखंडे राय दोषी पाए गए हैं। भेजी गई रिपोर्ट के बाद शासन स्तर पर दोनों ही दोषी पाए गए कर्मचारियों से 503356 की वसूली शासकीय नियमों के अंतर्गत की जाएगी।

आदेश की कॉपी

इसके अलावा दोषी पाए गए दोनों ही कर्मचारियों को तत्काल प्रभाव से मिल से हटाने एवं भविष्य में भी मिल में किसी भी कार्य हेतु किसी भी माध्यम से उन्हें नियुक्त करने पर प्रतिबंधित किया गया है।

विधायक राजेश शुक्ला बोले कि इसी तरह उजागर करता रहूंगा भ्रष्टाचार…

इधर इस पूरे मामले में विधायक राजेश शुक्ला ने किच्छा स्थित अपने कैंप कार्यालय पर पत्रकार वार्ता कर कहा है कि उनकी सरकार भ्रष्टाचार को किसी भी लिहाज से बर्दाश्त नहीं करेगी। सिस्टम में रहकर जो भी व्यक्ति सिस्टम के खिलाफ काम करेगा, उसके खिलाफ इसी तरह से मोर्चा खोलकर नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। विधायक शुक्ला ने स्पष्ट किया है कि किच्छा चीनी मिल में किसानों के हितों को कुचलने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों के नाम उजागर कर वे अपनी जिम्मेदारी का निर्वाहन करते रहेंगे। पत्रकार वार्ता के दौरान उनके साथ भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष विवेक राय भी मौजूद थे। आपको बता दें कि इससे पहले भी किच्छा चीनी मिल के एक अधिकारी को सस्पेंड किया जा चुका है।

क्या बोलो विधायक राजेश शुक्ला खुद सुनें…

 

Google Addes.....

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

0