लालकुआं: केसीसी योजना का लाभ भिलाई जाने की मांग को लेकर बिंदुखत्ता क्षेत्र के दुग्ध उत्पादकों ने एसडीएम को भेजा ज्ञापन

लालकुआं। बिंदुखत्ता क्षेत्र के दुग्ध उत्पादकों को किसान क्रेडिट की सुविधा उपलब्ध कराने की मांग को लेकर क्षेत्र के दर्जनों दुग्ध उत्पादकों ने अधिशासी अधिकारी राजू नबीआल के माध्यम से उप जिलाधिकारी विवेक राय को ज्ञापन भेजा।
सोमवार को तहसील परिसर में एकत्रित हुए बिन्दुखत्ता क्षेत्र के दर्जनों दुग्ध उत्पादकों ने उप जिलाधिकारी विवेक राय को ज्ञापन भेजते हुए कहा कि बिंदुखत्ता क्षेत्र दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में अग्रणीय क्षेत्र है पूरे जनपद में कुल 25000 दुग्ध उत्पादकों में अकेले बिंदुखत्ता क्षेत्र मे लगभग 5000 दुग्ध उत्पादक हैं जोकि दुग्ध संघ में संपूर्ण जिले की दुग्ध आपूर्ति का एक तिहाई दूध अकेला बिंदुखत्ता क्षेत्र दुग्ध आपूर्ति आपूर्तिकर्ता है।

यही नहीं बिंदुखत्ता क्षेत्र कि एक दुग्ध समिति प्रदेश के कई जिलों के उत्पादन से अधिक दुग्ध अकेले ही आपूर्ति करती है लेकिन दुर्भाग्यवश हर बार की तरह बिंदुखत्ता वासियों को राजनीति का शिकार होना पड़ता है जैसा कि राज्य सरकार द्वारा बीते 26 जून को प्रदेश के सभी दुग्ध संघ को निर्देशित किया गया था कि वह प्रत्येक जिले में दुग्ध समितियों में केसीसी दिवस बनाएं लेकिन दुग्ध संघ के अधिकारियों द्वारा भीमताल विकासखंड में कार्यक्रम कर इतिश्री कर ली जिससे ना केवल बिंदुखत्ता क्षेत्र बल्कि आसपास के दुग्ध उत्पादकों में भी कड़ा आक्रोश व्याप्त है। प्रदेश में सबसे ज्यादा दुग्ध उत्पादन करने वाले बिंदुखत्ता क्षेत्र को भी नजरअंदाज कर दिया गया । बिंदुखत्ता क्षेत्र के गुस्साए दुग्ध उत्पादकों ने अन्य उत्पादकों की तरह केसीसी का लाभ बिंदुखत्ता क्षेत्र के उत्पादकों को भी पृथक पृथक रूप से दिलाने की मांग करते हुए कहा कि बिंदुखत्ता क्षेत्र के दुग्ध उत्पादकों को बैंकों द्वारा ऋण में ना केवल आनाकानी की जा रही है बल्कि सरकार द्वारा केसीसी योजना को भी चार दुग्ध उत्पादकों का ज्वाइंट लायबिलिटी ग्रुप बनाकर कुल 200000 ऋण देने की तैयारी की जा रही है जो क्षेत्र के दुग्ध उत्पादकों के साथ अन्याय नहीं बल्कि भेदभाव पूर्ण नीति है दुग्ध उत्पादकों ने ज्ञापन के जरिए विभिन्न समस्याओं के शीघ्र समाधान की मांग की।

इस दौरान पूर्व कैबिनेट मंत्री हरीश चंद्र दुर्गापाल वरिष्ठ कांग्रेस नेता हरेंद्र सिंह बोरा हरीश बिसोती शेखर जोशी बिना जोशी पुष्कर दानू केदार सिंह दानू भगवान धामी सहित जनों की तादात में दुग्ध उत्पादक मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें-   लालकुआं: उपजिलाधिकारी विवेक रॉय ने समझा हाथी खाना निवासियों का दर्द       https://www.newsprintonline.com/news/lalkuan-sub-collector-vivek-roy-understood-the-pain-of-residents-eating-elephants/?lang=HI

Google Addes.....

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

0