नदियों के उत्थान को ‘कुमाऊॅ मण्डल नदी पुर्नजनन समिति’ की गठित

रूद्रपुर । कुमाऊॅ मण्डलायुक्त अरविन्द सिंह हृयांकी ने आज विडियो कान्फेंसिंग के माध्यम से कुमाऊॅ मण्डल के जिलाधिकारियों व सम्बन्धित विभागीय अधिकाारियों से नदियों के पुर्नजनन अभियान की समीक्षा व चर्चा की। उन्होने कहा कि नदियों के पुर्नजनन के लिये ‘कुमाऊ मण्डल नदी पुर्नजनन समितिÓ गठित की गयी है। उन्होने जिलाधिकारियों को कमेटी में नियुक्त सदस्यों के साथ समन्वय स्थापित करते हुये नदियों को पुर्नजनन का कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिये।

उन्होने कहा काम कैसे होना है, कहा होना है की प्लानिंग अच्छी तरह बना ले। उन्होने कहा कि प्लानिंग बनाते समय उस क्षेत्र में रिसोर्स परिपूर्ण हो इस बात का ध्यान अवश्य रखा जाय ताकि कार्य करते समय किसी प्रकार की बाधा उत्पन्न न हो। उन्होने जिलाधिकारियों से जल श्रोत के छोटे-छोट प्लान बनाने के भी निर्देश दिये ताकि कम बजट में कर्यो को पुरा किया जा सकें।

योजनाओं की नियमित रूप से मानीटरिंग के निर्देश
उन्होंने कहा कि कोसी व शिप्रा नदी को पुर्नजीवित करने का जो अभियान चलाया गया है। उससे नदियों में जल स्तर बढेगा। उन्होने कहा कि कोसी नदी अल्मोडा जनपद के लिये पेयजल के लिये एक बहुत ही महत्वपूर्ण नदी है। उन्हाने कहा कि इस नदी से नैनीताल के लिये भी जलापूर्ति हेतु कार्य किया जा रहा है। उन्होने कहा अल्मोडा में कोसी को जिस प्रकार से पुर्नजीवित किया उसकी सराहना देशो में की जाती है। उन्होने कहा जल संरक्षण व नदी पुर्नजनन अभियान में जिस प्रकार से अल्मोडा ने कार्य किया वह एक सराहनीय कार्य है। उन्होने कहा अच्छी योजना का दूरगामी परिणाम होते है। योजनाओं की नियमित रूप से मानीटरिंग कार्य को भी प्राथमिकता देनी होगी। उन्होंने कहा कि किये गये कार्यों की नियोजित मॉनीटरिंग अभियान को सफल बना सकती है।

जल संरक्षण मुख्यमंत्री व भारत सरकार की प्राथमिकताओं में से एक: आयुक्त
आयुक्त ने कहा कि जनपद बागेश्वर में गरूड़ गंगा व नैनीताल द्वारा शिप्रा नदी व जनपद उधमसिंह नगर में कल्याणी नदी को पुर्नजीवित किये जाने हेतु कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जनपद चम्पावत में गौड़ी गण्डक, पिथौरागढ़ में रई व को पुर्नजीवित किये जाने के लिये प्रस्तावित किया गया है। उन्होंने दोनों जनपदों को कार्य योजना के लिये यथाशीध्र निर्देश दिये। आयुक्त ने कहा कि इसके लिये तकनीकी सहयोग प्रो0 जे0एस0रावत से सहयोग लिया जा सकता है। उन्होंने कहा कि जल संरक्षण मुख्यमंत्री व भारत सरकार की प्राथमिकताओं में एक है इसे ध्यान में रख कर जल-संरक्षण व संर्वद्धन के कार्यों को गम्भीरता से लें।

उन्होने कहा कि भूमिगत जल भण्डार, रिचार्ज क्षेत्रों को जीवित, नदियों को बचाने व पुराने जल श्रोतो को पुर्नजीवित करने की आवश्यकता है ताकि आने वाले समय में लोगों को इसका लाभ मिल सकें।
जिलाधिकारी डा0 नीरज खैरवाल ने मंडलायुक्त को बताया कि कल्याणी नदी को पुर्नजनन के लिये प्लान तैयार कर लिया गया है। उन्होने कहा कि कल्याणी नदी को सफाई का कार्य किया जा रहा है।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी मयूर दीक्षित, प्रभागीय वनाधिकारी अभिलाषा, जिला विकास अधिकारी अजय सिंह, उद्यान अधिकारी, पेजल, भूमि संरक्षण, सिंचाई विभाग व अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

 

देखें यह खबर- दूसरी बार भी पॉजिटिव निकली सुरभि अस्पताल की एमडी  https://www.newsprintonline.com/news/corona-md-of-surabhi-hospital-turned-positive-for-the-second-time/?lang=HI

कोरोना : दूसरी बार भी पॉजीटिव निकली सुरभि अस्पताल की एमडी

———————————————————————

राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस पर देखें हमारी यह वीडियो…..https://youtu.be/eSQzdbcOKt4

Google Addes.....

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

0